> क्रिसमस डे क्यों मनाया जाता है और किस दिन से शुरू हुआ। - Online Hindi Advice
Shayari & Story

क्रिसमस डे क्यों मनाया जाता है और किस दिन से शुरू हुआ।

दोस्तों आज हम आप को बताएगे क्रिसमस डे क्यों मानते है। और किस दिन से शुरू  हुआ आप को हम बताते है बहुत ही अच्छी तरीका से क्रिसमस के बारे में इस पोस्ट में आज मै आप को पुरा सच्च बताऊगा की क्रिसमस  क्या है।और क्रिसमस का त्योहार कब से मनाया जाता है  

क्रिसमस क्यों मनाया जाता है।

दोस्तों दुनिया भर में क्रिसमस डे का त्यौहार ईसाई लोग बड़े धूम धाम से मानते है ईसाईयों का सबसे बड़ा त्यौहार है।

ईसाई मसी के रूप में मनाया जाता है ईसाई धर्म का  बहुत ही महत्ब त्योहार है यह 25 दिसम्बर की अधिकांश देशो में मनाया जाता है क्रिसमस डे का जन्म क्रशय मास शब्द से हुआ एसा मना गया है। की 30036 वी में  क्रिसमस  डे सबसे पहला मनाया गया था।

बाइबल के अनुसार रोम नामक नाम  का एक व्यक्ती था जो बहुत ही अत्याचार करता था सब लोगो पर मार पीट करता था उससे सब बहुत परेशान होते थे एक दिन देब दूत आय माता मरियम के पास आय बोले आप की एक संतान होगी,जिसका नाम जिसस रखना जो बहुत बड़ा राजा बनेगा बड़ा हो केउसकी राज्य की कोई सीमा नहीं होगी जो रोम से अपना राज्य बचाएगा कठिनाईओ से मुक्ति दिलाएगा   माता मरियम की सगाई राजा दाऊद के राजवंशी नामक यूसुफ से हुई थी।

Image result for krismas day kyu manate hai

दौरान जीसस का जन्म हुआ

देव दूत की  बात सुनकर माता मरियम बहुत कास्ट हीन  होगई माता मरियम बोली मै तो अभी कुवारी हु ऐसा कैसे सम्भब होसकता है। देब दूत ने कहा ये चमत्कार होगा बहुत जल्द ही माता मरियम और यूसुफ की शादी हुई शादी होने के बाद जिस दिन जीसस का जन्म होने बाला था उस समय माता मरियम और यूसुफ एक (अस्तबल) बेथलेहम की ओर जा रहे थे अस्तबल तबेल में ही रात  गुजारी इसी  दौरान जीसस का जन्म हुआ उसी रात बादल में एक तारा चमक रहा था जिससे लोगो को आरम्भ हो गया था।

रोम की शासन से बचाने के लिए ईसा मसी ने जन्म ले लिया है ईसा मसी के जन्म को ही आज तक क्रिसमस डे के रूप में मानते है। ईसा मसी ने सब लोगो को भाई चारे की सीख दी उन्होंने लोगो को भगबान के पास रहने की मार्ग दिखाया छामा करने पर जोर दिया उन्होंने अपने कातिलों को भी माफ़ करा

ईसा मसी कहते थे की जो तुम्हारा बुरा करे तुम उसके साथ अच्छा करो और अपने दुस्मनो से भी प्यार करो। 

 

Image result for krismas day kyu manate hai

शान्टा क्यलॉस कैसे मनाता था क्रिसमस डे

आज इस पर पहचान वना चूका है शान्ता कीलॉस की छबी एक गोल माटोल व्यक्ति की है। हमेसा लाल कपड़े पहने रहता था हमेसा वच्चो को क्रिसमस डे पर गिफ्ट देने आता है। शुलेज पर वैठ कर आज कल दुनिया भर में शान्ता कीलॉस के बगैर क्रिसमस डे अधूरा है।

शान्ता कीलॉस को लेकर बहुत सी  कथाय है बहुत सेलोग मानते है। चौथी सातव दी में शान्त निकुल जी तुरंत के मीरा नामक शहर के विशचक थे बह असली शांता थे शांता निकुलस गरीब वच्चों को गिफ्ट देते थे उस समय शांत निकुलस का बहुत सम्मान करते थे शांत उसी समय से शांता कीलॉस की परिकल्पना की जाने लगी है।

Image result for krismas day kyu manate hai

त्यौहार ईसाई लोग कैसे मनाते है।

क्रिसमस से कई दिनों पहले सभी ईसाई द्वारा कैरॉल्स वनाय जाते है और प्राथना की जाती है पूरी दुनिया में गिरजार इशू की जन्म दाता के रूप में की जाती है सीमाय पूरी दुनिया में गिरजार इशू की जन्म दाता के रूप में की जाती है। 24 से 25 दिसमवर के बीच रात को पूजा की जाती है। भगत गीत गाय जाते है। दूसरे दिन से ही सुबहा को जन्म दिन की सजाबठे होने लगती है।

गिरजारो को मगलबार को कामना का क्रिस्ट क्रिसमस डे सजाया जाता है। पूजा स्थलों को इस तरह सजाया जाता है। जैसे मनो कि दीबाली का त्यौहार हो आज कल जैसे क्रिसमस धार्मिक है। उतना ही सामाजिक पर्व वन गया है कई घर ईसाई लोग घरों में संस्कृत रूप में मनाते है। इस उत्स्व पर सभी सीमाय चरड़ सीमा पर रहती है।

इस दौरान मिठाइयाँ चॉकलेट विराइटिग  कार्डक्रिसमस पर देते है। और दोस्तों यारों और रिश्ते दरों को गिफ्ट देने का रिबाज है इस दिन का रिवाज है। इस दिन सरकारी गैर सरकारी सब कुछ बंद रहता है अगला दिन 26 दिसमवर वायोक्सिग डे के रूप में मनाया जा रहा है। कुछ देशो में केथोल देशो में शींसथी या फिनस्थि  डे कहते है।

Image result for krismas day kyu manate hai  

                          

Share Buttons
0Shares

About the author

Mohammad Rihan

Mohammad Rihan

Hello Friends My Name is Mohammed Rihan and I am the Founder of Online Hindi Advice knowledge in Hindi on This Blog for People. Here on this blog I write about Technology, Blogging, Make Money, Festival and Happy day

Leave a Comment