> वैलेंटाइन डे क्यों मनाया जाता है- Valentine Day Kyu Manaya jata hai. -
Shayari & Story

वैलेंटाइन डे क्यों मनाया जाता है- Valentine Day Kyu Manaya jata hai.

वैलेंटाइन डे की बहुत बहुत हार्दिक शुभकामनाएं onlinehindiadvice.com की तरफ से दोस्तों आज मैं आपको बताने जा रहा हूं कि वैलेंटाइन डे क्यों मनाया जाता है इसका क्या कारण है यह किस लिए मनाया जाता है आपको आज मैं पूरी जानकारी दूंगा इस आर्टिकल में आप को पूरी जानकारी मिल ही जाएगी मेरे इस आर्टिकल में

हां आज हम बात करने जा रहे हैं दोस्तों प्यार की परवाह नों के दिनों की जो वैलेंटाइन डे की प्यार भरा वह दिन खुशियों का प्रतीक माना जाता है वैलेंटाइन डे प्यार का बहुत बड़ा दिन माना जाता है

दोस्तों हमारे देश में तो हर त्योहार बहुत खुशी से मनाएं जाते हैं .जैसे दिवाली होली  ईद क्रिसमस डे और अत्यधिक बहुत सारे त्योहार मनाए जाते हैं. उन सभी त्योहार के  पीछे सच्ची कहानी होती है जो इतिहास के पन्नों पर लिखी गई है और वह सभी त्योहार  सदियों से चले आ रहे हैं .हम बहुत खुशी से मनाते हैं हर रिती रिवाज को हम अपने हिसाब से मनातेहैं.

 

ऐसा ही एक  त्यौहार और है जिसे कहते हैं valentine day के नाम से बहुत फेमस है इस दिन को हम प्यार का दिन कहते हैं हर साल प्यार करने वाले 14 फरवरी को वेलेंटाइन डे मनाते हैं

लेकिन क्या आप को पता है कि वैलेंटाइन डे क्यों मनाया जाता है वैलेंटाइंस डे के पीछे भी बहुत बड़ी कहानी है इस बारे में आपको पता भी हो सकता है अगर आपको नहीं पता है .तो मैं आपको इस कहानी में बताऊंगा कि वैलेंटाइन डे क्यों मनाया जाता है इसके पीछे क्या कहानी है 14 फरवरी को मनाए जाने वाला यह त्योहार विभिन्न देशों  में अलग अलग तरह से मनाया जाता है .

पश्चिमी देश में तो इस दिन की रौनक अपने शबाब पर ही होती है मगर पूर्व देशों में भी इस दिन को मान बनाने का अपना अपना अंदाज होता है कोई कैसे बनाता है कोई कैसे ही मनाता है जहां चीन में यह दिन नाइट्स ऑफ सेव इस प्यार में डूबे दिलों के लिए खास दिन होता है वही जापान कोरिया में इस पूर्व को बाइट  डे के नाम से जाना जाता है.

दोस्तों इतना ही नहीं इन देशों में इससे पूरे 1 महीने तक लोग अपने प्यार का इजहार करते हैं किसी को गिफ्ट देते हैं तो तो फिर देते हैं फूल देते हैं ग्रीटिंग कार्ड देखते हैं अपने अपने दिल की बातों को इजहार करते हैं यह बहुत ही बढ़ा दिन मानते हैं .प्यार करने वाले

वैलेंटाइन डे क्यों मनाया जाता है

वेलेंटाइन डे एक व्यक्ति के नाम पर रखा गया था. जिसका नाम यह था कि वैलेंटाइन इसके प्यार के दिन की कहानी की शुरुआत प्यार से भरा हुआ नहीं है यह एक खानी दुष्ट राजा और कृपालु संत वैलेंटाइन के बीच हुई थी इस दिन की शुरुआत जब से हुई थी रूम की तीसरी सदी से जहां पर एक अत्याचारी हुआ करता था जिसका नाम था,claudius रोम के राजा का यह मानना होता था कि एक अकेला सिफाई एक शादीशुदा सफाई के मुकाबले  जंग के लिए एक उचित और प्रभावशाली सिपाही बन सकता है.

क्योंकि शादीशुदा सिपाही को हर वक्त बस इसी बात की चिंता रहेगी कि मेरे मर जाने के बाद मेरे परिवार का ख्याल कौन रखेगा और कैसे-कैसे मेरा परिवार जिएगा यह चिंता में वह जंग में अपना पूरा ध्यान नहीं दे पाएगा यह सोच कर राजा ने ऐलान किया कि उसके राज्य का कोई भी सिफाई   या कोई भी मजदूर मतलब कुछ भी हुआ शादी नहीं करेगा जिस किसी ने भी उसके इस आदेश का पालन नहीं किया तो उसे अधिक से अधिक सजा दी जाएगी.

अब पूरे राज्य में हलचल मच गई कि राजा ने तो यह फैसला लिया है कि कोई भी राज्य में शादी नहीं करेगा इस फैसले को सुनकर सिपाही बहुत दुखी हो गए और सब को यह भी पता था. कि यह फैसला राजा का गलत है लेकिन राजा के डर के मारे उसकी धन दौलत को देखकर कोई भी उसकी बात का उल्लंघन करने का हिम्मत नहीं थी उसकी यह आज्ञा का पालन करने के लिए मजबूर हो गए मंगर एक रूम के संत वेलेंटाइन को यह नाइंसाफी बिल्कुल मंजूर नहीं थी

इसलिए उसने यह कहा कि राजा से छुपकर युवा सिपाहियों का मदद की और उनकी शादी करवाने लगी जो भी सिपाही अपनी प्रेमिका से शादी करना चाहते थे वह वैलेंटाइन के पास जाते थे और Valentine उनकी मदद भी किया करता था और उनकी शादी करवा देते थे इसी तरह वैलेंटाइन ने बहुत बहुत से सिपाहियों की गुप्त की शादी करवा दी थी राजा के बिना बताए.

लेकिन धीरे-धीरे राजा को पता चलना शुरू हो गई यह तो आपको पता ही होगा कि सच ज्यादा दिन तक नहीं छुप  सकता किसी ना किसी दिन वह सब लोगों के सामने बाहर आएगा ही उसी तरह वैलेंटाइन के इस कार्य के बारे में भी राजा के कान में खबर धीरे धीरे पहुंच गई ला राजा के आदेश का पालन नहीं किया इसलिए राजा ने वैलेंटाइन को सजाए मौत की सजा सुना दी और जेल खाने के अंदर डाल दिए गए.

वेलेंटाइन जेल के अंदर अपनी मौत की तारीख का इंतजार कर रहे थे और एक दिन उनके पास jailir आया जिसका नाम था Asterius था रूम के लोगों का कहना था कि वैलेंटाइन के पास एक दिव्य शक्ति थी जिसके इस्तेमाल से वह लोगों को रोगों से मुक्ति दिल आया करते थे Asterius की एक बेटी थी जो बिचारी अंधी थी और उसे वैलेंटाइन के पास बांसी जुदाई ताकत के बारे में पता था इसलिए वह वैलेंटाइन के पास जाकर उनसे विनती करने लगा कि उसकी बेटी की आंखों की रोशनी को अपने दिव्य शक्ति से ठीक कर दो वैलेंटाइन ने एक नेक दिल इंसान थे और वह सबकी मदद करते थे इसलिए उन्होंने उनकी भी मदद की उस लड़की की आंखों की रोशनी वापस ला दी और वह ठीक हो गई.

उसके बाद वैलेंटाइन और जेलर के बेटी के बीच गहरी दोस्ती हो गई और वह दोस्ती कब प्यार में बदल गई उन्हें पता ही नहीं चला जेलर की बेटी को वैलेंटाइन की मौत होने वाली है यह सोच सोच कर उसको गहरा सदमा लग गया था उसे इतनी चिंता हो गई कि अधिक से ज्यादा लिमिट से ज्यादा और आखिर पर वह दोनों 14 फरवरी आ गया था जिस दिन वैलेंटाइन को फांसी लगने वाली थी अपनी मौत से पहले वैलेंटाइन ने जेलर से एक कलम और कागज मांगा और उस कागज पर उसने जेलर की बेटी के लिए अलविदा संदेश लिखने के आखिरी में उसने तुम्हारा वेलेंटाइन लिखा था यह वह है जिसे आज भी लोग याद करते हैं जिसे मनाते हैं वैलेंटाइन डे के रूप में.

वैलेंटाइन के इस अलविदा की वजह से 14 फरवरी को उनके नाम से रखा गया है इस दिन को पूरी दुनिया मैं सभी प्यार करने वाले लोग वेलेंटाइन डे को याद करते हैं और एक दूसरे के साथ प्यार बांटते हैं अपने प्यार का इजहार करते हैं सभी प्यार करने वाले अपने प्रेमी प्रेमिका को फूल देते तो फिर देते हैं से गिफ्ट ग्रीटिंग कार्ड और अपने दिल की बात इजहार करते हैं.

वैलेंटाइन डे किसके साथ मनाया जाता है.

वैलेंटाइन डे क्या गर्लफ्रेंड के साथ मनाया जाता है वैलेंटाइन डे का मतलब यह नहीं होता कि हम गर्लफ्रेंड के ही साथ मनाएं वेलेंटाइन डे हम दोस्तों के साथ भी बहन भाई मदर्स फादर्स और लवर्स इन सब के साथ हम बना सकते हैं वेलेंटाइन डे प्यार का दिन होता है प्यार तो हर किसी से हो सकता है मां से बहन से दोस्त से लवर से किसी से भी हो सकता है इसलिए हम वेलेंटाइन डे हर किसी के साथ मना सकते हैं जिससे हमारे दिल में प्यार हो यह बात अलग है कि आप अपने तरीके से मना सकते हो बहन के साथ बहन के तरीके से मां के साथ मां के साथ.

वैलेंटाइन डे कैसे मनाया जाता है.

14 फरवरी का दिन प्रेमियों के लिए बहुत बड़ा ही दिन माना गया है इसलिए पूरे दिन को कैसे बिताएं इसकी तैयारी तो हमें पहले से ही करनी पड़ती है यहां पर मैं आपको कुछ ऐसे तरीका बताऊंगा जिससे आप वैलेंटाइन डे पर अपना सकते हैं इस दिन को सुनहरा दिन और हसीन बना सकते हैं.

आप कहीं बाहर भी घूमने जा सकते हैं या फिर आप डिनर पर जा सकते हो या फिर आप मूवी देखने जा सकते हो या फिर आप ऐसी जगह जाएं जहां पर आप की पहली बार मुलाकात हो भाभी आप जा सकते या फिर पुराना कॉलेज हो या फिर मंदिर हो या मजार हो कहीं पर भी आप जा सकते हैं

अपने साथी को कोई स्पेशल गिफ्ट देकर खुश कर सकते हो या फिर कोई अच्छा सा ग्रीटिंग कार्ड या फिर अपने साथी के साथ समय बिता हुआ लम्हा याद कर सकते हो या फिर अपने दूसरे गणेश दोस्तों को घर बुलाकर एक साथ समय बिता सकते हो 5 में कहीं देख रेट कर सकते हो या लोग ड्राई में जा सकते हो एक दूसरे के साथ क्वालिटी टाइम बिता कर सकते हो या फिर कहीं बार लंबी सैर करने जा सकते हो जहां पर आप अपने प्रेम का इजहार कर सकते हो.

 

Share Buttons
1Shares

About the author

Mohammad Rihan

Mohammad Rihan

Hello Friends My Name is Mohammed Rihan and I am the Founder of Online Hindi Advice knowledge in Hindi on This Blog for People. Here on this blog I write about Technology, Blogging, Make Money, Festival and Happy day

1 Comment

Leave a Comment